संपर्कित लेंसों की समतुल्य फोकस दूरी का व्यंजक, संपर्कित लेंसों की क्षमता!

21/07/2022 Vinod 0 Comments

संपर्कित लेंसों की समतुल्य फोकस दूरी का व्यंजक :-

माना कि L₁ तथा L₂ समान अक्ष पर रखे दो संपर्कित लेंस है, इन लेंसों की फोकस दूरी क्रमशः f₁ तथा f₂ है। प्रधान अक्ष के बिंदु O पर रखी बिंदुवत एक वस्तु जिसका प्रतिबिंब लेंस L₁ द्वारा I’ पर बनता है, जो दूसरे लेंस L₂ के लिए वस्तु का कार्य करता है, जिसका प्रतिबिंब I है।

का संयोजन combination of thin lenses in hindi

यदि लेंस L₁ से I’ की दूरी v’, लेंस L₂ से I की दूरी v तथा पहले लेंस से वस्तु O की दूरी u है, तो लेंस के सूत्र से

52.htm2
52.htm3

उपर्युक्त दोनों समीकरण को जोड़ने पर

52.htm4
52.htm5
52.htm6
52.htm7
52.htm8

जहां F दो संपर्कित लेंसों की समतुल्य फोकस दूरी है।

संपर्कित लेंसों की क्षमता :-

यदि संपर्क में रखे दो लेंसों की फोकस दूरीयां क्रमशः f₁ और f₂ हो और इनसे बने समतुल्य लेंस की फोकस दूरी F हो, तो

52.htm7 1

या

P = P₁ + P₂

जहां, P₁ और P₂ दोनों लेंसों की क्षमता तथा P समतुल्य लेंस की क्षमता है।

Leave a Reply