प्रकाश का वर्ण विक्षेपण क्या है ?

प्रकाश का वर्ण विक्षेपण (Dispersion of Light) :-

जब श्वेत प्रकाश ( सूर्य का प्रकाश) किसी प्रिज्म से होकर गुजरता है, तब निर्गत किरणें आधार की ओर मुड़ती है और उसमें सात रंग दिखाई पड़ते हैं। प्रकाश – रंगों के इस प्रकार अलग – अलग हो जाने की क्रिया को प्रकाश का वर्ण विक्षेपन कहते है।

196 1
चित्र :- प्रकाश का वर्ण विक्षेपण।
  • प्रिज्म द्वारा वर्ण विक्षेपण का विश्लेषण सर्वप्रथम न्यूटन ने सन् 1666 में किया था।
  • वर्ण विक्षेपन के पश्चात प्राप्त सात रंगों को अंग्रेजी के बडे़ और प्रथम अक्षर VIBGYOR द्वारा सूचित किया जाता है तथा इन रंगों के समूह को वर्णपट या स्पेक्ट्रम (spectrum) कहते है।
  • किसी पारदर्शक पदार्थ में प्रकाश का वर्ण विक्षेपण अवयवी वर्णों के प्रकाश, अर्थात विभिन्न तरंगदैर्ध्य (wavelength ) के प्रकाश की चाल भिन्न-भिन्न रहने के कारण होता है।
  • तरंगदैर्ध्य (wavelength ) के साथ किसी दिए हुए माध्यम के अपवर्तनांक में परिवर्तन को भी प्रकाश का वर्ण विक्षेपण कहते हैं।
  • सामान्यतः तरंगदैर्ध्य (wavelength ) के घटने से माध्यम के अपवर्तनांक (μ) का मान बढ़ता है।
NTA NEET SET 112 E01 032 O04
चित्र :- अपवर्तनांक तथा तरंगदैर्ध्य के बीच ग्राफ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Move to Top