आनुवंशिकतः रूपांतरित जीव (GMO) क्या है? आनुवंशिकतः संशोधित फसलों (GM crops) का विवरण दीजिए।

19/03/2023 Vinod 0 Comments

आनुवंशिकतः रूपांतरित जीव (Genetically Modified Organisms, GMO) :-

आनुवंशिकी अभियांत्रिकी तकनीक द्वारा जब जीवों के जीन में परिवर्तित किया जाता है तब उससे प्राप्त जीव को आनुवंशिकतः रुपांतरित जीव कहते हैं।

आनुवशिकतः रूपांतरित जीव का व्यवहार कई बातों पर निर्भर करता है। जैसे परपोषी पौधों, जंतुओं की प्रकृति, आहार जाल तथा स्थानांतरित जीन की प्रकृति।

आनुवंशिकतः रूपांतरित जीवों में आनुवंशिकतः संशोधित फसलों की विशेष भूमिका होती है।

आनुवंशिकतः संशोधित फसल (Genetically Modified Crops, GM crops) :-

आनुवशिकतः संशोधित फसल वह फसल है जिसमें ट्रांसजिन होते हैं। ट्रांसजेनिक फसलों को आनुवंशिकतः संशोधित फसल भी कहा जाता है।

600px
चित्र :- आनुवंशिकतः संशोधित फसल

आनुवंशिकतः संशोधित फसल का उपयोग :-

  1. रासायनिक कीटनाशकों (insecticides) तथा पीड़कनाशकों (pesticides) पर निर्भर कम करना। इसके लिए पीड़कनाशी-प्रतिरोधी फसलों का उत्पादन सहायक सिद्ध होता है।
  2. ऐसे फसल का उत्पादन जिसमें ठंडा, सूखा, लवण ताप सहन करने की क्षमता हो।
  3. खाद्य पदार्थों के पोषण स्तर में वृद्धि। जैसे चावल के दानों में विटामिन A को स्थानांतरित कर, गोल्डन राइस बनाया गया है। 2005 में विकसित गोल्डेन राइस 2 में original variety से 23 गुना ज्यादा बीटा कैरोटीन उत्पादन करने की क्षमता है।
  4. पौधें द्वारा खनिज उपयोग क्षमता में वृद्धि। इसके द्वारा मिट्टी की शीघ्र उर्वरता समाप्त होने पर रोक लगाई जा सकती है।
  5. कटाई के पश्चात होने वाले नुकसान को रोका जा सकता है।

ट्रांसजेनिक फसलों से जो खाद्य सामग्री प्राप्त की जाती है उससे आनुवशिकतः संशोधित खाद्य कहा जाता है। आनुवशिकतः रूपांतरित जीवों का उपयोग उद्योगों में वसा, ईंधन आदि पदार्थों की आपूर्ति के लिए किया जा सकता है।

Leave a Reply:

Your email address will not be published. Required fields are marked *